इसी साल अक्टूबर-नवंबर में निर्धारित टी20 वर्ल्ड कप पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) कोई फैसला नहीं ले पाई है. आईसीसी बोर्ड की बुधवार को टेलिकॉन्फ्रेंस के जरिए हुई बैठक में मौजूदा टी-20 वर्ल्ड कप पर अगले महीने तक फैसला टाल दिया गया. यानी एक महीने तक और इंतजार करने का फैसला किया. वर्ल्ड कप का आयोजन 18 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच ऑस्ट्रेलिया में होना है.

ICC बोर्ड ने पुरुष T20 वर्ल्ड कप 2020 और महिला वर्ल्ड कप 2021 के भविष्य के बारे में एक महीने तक और इंतजार करने का फैसला किया. आईसीसी कई आपात योजनाओं को तलाशना जारी रखना चाहती है. बोर्ड ने COVID-19 के साथ तेजी से बदलती सार्वजनिक स्वास्थ्य स्थिति का आकलन और मूल्यांकन जारी रखने की अपनी इच्छा व्यक्त की. जिसमें सरकारों सहित प्रमुख हितधारकों के साथ काम करना है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि सभी के स्वास्थ्य और सुरक्षा का ध्यान रखते हुए कैसे टूर्नामेंट का आयोजन किया जा सकता है.

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी मनु साहनी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस से हुई बोर्ड बैठक के बाद बयान में कहा, ‘हमें इस पर फैसला करने के लिए केवल एक मौका मिलेगा और यह सही होना चाहिए. हम अपने सदस्यों, प्रसारकों, साझीदारों, सरकारों और खिलाड़ियों से सलाह लेना जारी रखेंगे, ताकि सुनिश्चित हो कि हम एक उचित फैसला करें.’

दिसंबर तक कर छूट की समय सीमा बढ़ा दी

आईसीसी बोर्ड ने हालांकि बीसीसीआई के साथ कर छूट को लेकर रस्साकशी को कम से कम इस साल दिसंबर तक खत्म करने का फैसला किया. उसने भारतीय बोर्ड के लिए देश की केंद्र सरकार से कर छूट हासिल करने की समय सीमा बढ़ा दी, जो आईसीसी टूर्नामेंट जैसे विश्व टी20 और वनडे विश्व कप के आयोजन के लिए अनिवार्य है.

समझा जा रहा था कि कोविड-19 महामारी के कारण बनी परिस्थितियों में टी-20 वर्ल्ड कप का आयोजन टलने पर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) कराने का रास्ता खुल जाएगा. यानी बीसीसीआई इस अक्टूबर-नवंबर के विंडो को आईपीएल के लिए इस्तेमाल में लाएगा. अब आईपीएल के आयोजन की रणनीति तय करने के लिए और इंतजार करना पडे़गा.

इससे पहले लगातार अटकलें लगाई जा रही थीं कि इस बैठक के बाद ऑस्ट्रेलिया में होने वाले पुरुष टी20 वर्ल्ड कप को 2022 तक स्थगित करने का ऐलान संभव है. आईसीसी बोर्ड की पिछली बैठक 28 मई को हुई थी, जिसमें टी-20 वर्ल्ड कप को लेकर 10 जून तक फैसला टाला गया था।