पाकिस्तानी टीम कोरोना संकट के बावजूद रविवार को पहुंचेगी इंग्लैंड, ट्रेनिंग से पहले 14 दिन रहेगी आइसोलेशन में

Pakitan tour of England: पाकिस्तान की टीम तीन टेस्ट, तीन टी20 मैचों की सीरीज के लिए रविवार को इंग्लैंड पहुंचेगी और ट्रेनिंग शुरू करने से पहले 14 दिनों के आइसोलेसन पीरियड में रहेगी

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम इंग्लैंड दौरे के लिए रविवार को यहां पहुंचेगी जिसमें वे दस खिलाड़ी नहीं होंगे जिनका कोरोना वायरस टेस्ट पॉजिटिव पाया गया है । इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि तीन टेस्ट और दो टी20 मैच दर्शकों के बिना खेले जायेंगे।

एएफपी की के मुताबिक, पाकिस्तानी टीम इंग्लैंड पहुंचने के बाद 14 दिन आइसोलेशन में रहेगी और इसके बाद ही पहले टेस्ट की तैयारियों के लिए दो आंतरिक चार दिनी वॉर्म-अप मैच खेलेगी।  इंग्लैंड के खिलाफ पाकिस्तानी टीम के दौरे का पहला टेस्ट मैच अगस्त में खेले जाने की संभावना है, हालांकि पूरे कार्यक्रम का ऐलान होना अभी बाकी है।

 10 पाकिस्तानी खिलाड़ी पाए गए हैं कोरोना पॉजिटिव

इंग्लैंड दौरे पर जाने से पहले हुए टेस्ट में 10 पाकिस्तानी खिलाड़ियों और एक बोर्ड अधिकारी को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था, ये खिलाड़ी फिलहाल इंग्लैंड नहीं जा पाएंगे।

कोरोना पॉजिटिव पाए गए खिलाड़ियों में मोहम्मद हफीज, फखर जमान, मोहम्मद रिजवान, वहाब रियाज, इमरान खान, मोहम्मद हसनैन और कासिफ भाटी को मंगलवार को पॉजिटिव पाया गया था। वहीं सोमवार को शाबाद खान, हासिर रऊफ और हैदर अली समेत तीन खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए थे। हालांकि पॉजिटव पाए गए खिलाड़ियों में केवल विकेटकीपर रिजवान ही टेस्ट क्रिकेटर के रूप में पहली पसंद वाले खिलाड़ियों में शामिल हैं।

पाकिस्तान को इंग्लैड दौरे पर तीन टेस्ट और तीन टी20 मैचों की सीरीज खेलनी है।

माना जा रहा है कि पहला टेस्ट मैच अगस्त में मैनचेस्टर में खेला जाएगा, लेकिन ईसीबी बंद दरवाजों के पीछे होने वाले मैचों के कार्यक्रम का ऐलान जल्द करेगा।

मोहम्मद हफीज की कोरोना रिपोर्ट को लेकर विवाद

पाकिस्तान के ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज ने बुधवार को कहा था कि एक दूसरे टेस्ट में उन्होंने खुद ही साबित कर दिया कि उन्हें कोरोनोवायरस नहीं है, एक दिन बाद पीसीबी ने कहा कि वह उन खिलाड़ियों में से हैं जिन्होंने आधिकारिक तौर पर टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है।

बाकी अन्य पॉजिटिव पाए गए खिलाड़ियों की तरह ही हफीज को भी अधिकारियों द्वारा एसिम्टोमैटिक बताया गया था। हफीज ने बुधवार को कहा था कि उन्होंने निजी तौर पर अपनी कोरोना जांच करवाई थी जो निगेटिव आई थी।

उधर पीसीबी ने हफीज के आरोपों के बाद फिर से उनका कोरोना टेस्ट करवाया, जिसमें उन्हें पॉजिटिव पाया गया। अब बोर्ड क्वारंटाइन नियमों के उल्लंघन के लिए हफीज के खिलाफ कार्रवाई कर सकता है।

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट मैच 8 जुलाई से साउथम्पटन में खेला जाएगा, इसके साथ ही कोरोना संकट की वजह से ठप पड़े इंटरनेशनल क्रिकेट की करीब चार महीने बाद वापसी होगी।

Leave a Reply