बड़ी खबर: मोदी सरकार ने खिलाड़ियों को दी राहत, प्रैक्टिस के लिए खोले स्टेडियम, BCCI ने दिया ये जवाब

कोरोना संकट के कारण देशभर 31 मई तक लॉकडाउन का चौथा चरण लागू हो गया है। लेकिन इस बीच बड़ी खबर ये है कि मोदी सरकार ने खिलाड़ियों के लिए लिए एक बड़ा फैसला लिया है।

कोरोना संकट के कारण देशभर 31 मई तक लॉकडाउन का चौथा चरण लागू हो गया है। लेकिन इस बीच बड़ी खबर ये है कि मोदी सरकार ने खिलाड़ियों के लिए लिए एक बड़ा फैसला लिया है। दरअसल लॉकडाउन-4 के ऐलान के साथ ही खिलाड़ियों को प्रैक्टिस करने की इजाजत दी गई है, लगभग 2 महीने से घर में बैठे खिलाड़ी अब स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स और स्टेडियम में प्रैक्टिस के लिए जा सकेंगे। हालांकि दर्शकों को स्टेडियम में जाने की इजाजत नहीं है।

दरअसल, कोरोना वैश्विक महामारी के चलते भारत में पिछले दो महीने से भी ज्यादा वक्त से सभी खेल गतिविधियां बंद हैं। लॉकडाउन का पालन खिलाड़ी भी घर पर रहकर कर रहे हैं। लेकिन अब मोदी सरकार ने खिलाड़ियों को सभी नियमों का पालन करते हुए प्रैक्टिस की इजाजत दे दी है, सरकार के इस कदम से अब जल्द ही क्रिकेट, फुटबॉल और अन्य खेलों के शुरू होने की आशा की किरण जागी है। बता दें कई देशों में कोरोना वायरस के बावजूद वहां की सरकारों ने खिलाड़ियों को प्रैक्टिस की इजाजत पहले ही दे दी है।

जर्मनी, साउथ कोरिया में तो फुटबॉल लीग्स भी शुरू हो गई हैं। वही, स्पेन, इटली में भी खिलाड़ियों ने प्रैक्टिस शुरू कर दी है। अब भारत ने भी खिलाड़ियों को स्टेडियम में प्रैक्टिस करने की इजाजत देकर जल्द ही खेल शुरू होने के संकेत दे दिये हैं। मोदी सरकार के इस फैसले के साथ ही सोमवार को सभी स्टेडियम प्रैक्टिस के लिए खुल जाएंगे। खिलाड़ी ट्रेनिंग कैसे करेंगे ये स्पोर्ट्स फेडरेशन ही तय करेंगी। मुमकिन है कि भारतीय टीम के कुछ खिलाड़ी भी प्रैक्टिस के लिए मैदान पर उतरें।

बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने शुक्रवार को कहा था कि सरकार की इजाजत के साथ ही बैंगलोर स्थित नेशनल क्रिकेट एकेडमी शुरू हो सकती है और वहां खिलाड़ी प्रैक्टिस कर सकते हैं। वहीं अब सरकार के आदेश के साथ ही बीसीसीआई अपने दूसरे खिलाड़ियों, जो कि देश के अलग-अलग शहरों में रहते हैं उन्हें भी आउटडोर प्रैक्टिस की इजाजत देगी। मुमकिन है कि खिलाड़ी सोमवार से ही आउटडोर प्रैक्टिस करें।

Leave a Reply