ICC से नाराज हुआ BCCI, टी20 वर्ल्ड कप के फैसले पर जानबूझकर देर करने आरोप लगाया

टी20 वर्ल्ड कप 2020 का आयोजन ऑस्ट्रेलिया में होगा या नहीं इस पर आइसीसी अपना रुख साफ नहीं कर रहा है। दो बार बैठक हुई, लेकिन हर बार फैसले को लेकर समय बढ़ा दिया गया। अब आइसीसी के टालू रवैये को लेकर बीसीसीआइ ने आइसीसी के चेयरमैन शशांक मनोहर पर जानबूझकर इस मामले पर अपनी टांग अड़ाने का आरोप लगाया है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के चेयरमैन भी साफ कर चुके हैं कि टूर्नामेंट का आयोजन शायद संभव नहीं हो सकेगा। ऐसे में बीसीसीआइ का ये मानना है कि आइसीसी का टालने वाला रवैया आइपीएल की तैयारियों को प्रभावित कर सकता है।

बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने अपना नाम सामने नहीं आने देने की शर्त पर बताया कि आइसीसी के चेयरमैन हर बार भ्रम कि स्थिति क्यों पैदा कर रहे हैं। जब मेजबान देश ही आयोजन के लिए मना कर रहा है तो इसकी घोषणा के लिए एक महीने का समय क्यों चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर इस पर जल्दी फैसला हो जाता तो सदस्य देशों को अन्य योजना बनाने में मदद मिलेगी।

बोर्ड के अधिकारी ने कहा कि अगर आइसीसी इस महीने टूर्नामेंट को स्थगित करने की घोषणा करता है तो जिस देश के खिलाड़ी आइपीएल का हिस्सा नहीं हैं तो द्विपक्षीय सीरीज की योजना बना सकते हैं। बीसीसीआइ की आइपीएल संचालन टीम संभावित मेजबानों को लेकर तैयारी शुरू कर सकता है। इसमें श्रीलंका भी शामिल होगा जिसके बाद प्रेमदासा, पाल्लेकल और हंबनटोटा मैदान हैं। यूएई के मुकाबले श्रीलंका को कम खर्चीले मेजबान के रूप में देखा जा रहा है।

आपको बता दें कि बीसीसीआइ और शशांक मनोहर के बीच मतभेद नए नहीं हैं। मनोहर के बीसीसीआइ के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन से खराब रिश्ते थे जिन्हें तनाव की मुख्य वजह माना जा रहा है। अधिकारी ने कहा कि वो बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हैं जो हमारे हितों के खिलाफ काम कर रहे हैं।

Leave a Reply